देश की राजनीती अब अवसरबाद की ओर ?
Politics
Bihar
Delhi
बिहार जिस तेजी से राजनैतिक परिदश्य बदला है देश का बुद्धिजीवी वर्ग के साथ साथ आम जनता भी आश्चर्यचकित है |हर कोई सोचने पर मजबूर है की अब ये किस तरह की राजनीती की परिपाटी शुरू हो गई है जिसमे नैतिकता, सुचता ,सिद्धांत और विचारधारा का लगता है कोई अस्तित्व नहीं रह गया है |गुजरात और उत्तरप्रदेश से भी आ रही राजनैतिक खबरों से भी यही लगता है की भारतीय राजनीती सिर्फ और सिर्फ अवसरबाद की ओर बढ़ रही है |जो किआने वाले समय में देश ओर देशवाशियो के लिए घातक साबित होगी और इसमें भी कोई शक नहीं कि इसका खामियाजा देश के छोटे बड़े सभी नेताओ को भी भुगतना पड़ेगा |


कांग्रेसियों ने नगर निगम जोन 15 सुहगी में, बड़े टेक्स को कम करने और पानी को लेकर वार्ड 76,77,78,की आम जनता के साथ कार्यालय को ज्ञापन सौंपा ।
Politics
Madhya Pradesh
Jabalpur
कांग्रेसियों ने नगर निगम जोन 15 सुहगी में, बड़े टेक्स को कम करने और पानी को लेकर वार्ड 76,77,78,की आम जनता के साथ कार्यालय को ज्ञापन सौंपा । आज बिलपुरा मडई रिछाई के लोगों ने आज बता दिया की नगर निगम अब तुम्मारी तानाशाही नही चलेगी और उन लोगो को भी समझ में गया जो भोली भाली जनता की बेबकूफ समझते है कल से गुमराह किया जा रहा था कि बड़ा हुआ २०% टैक्स नए वार्डो में नही लिया जाएगा लेकिन आज जब जनता ने अधिकारियो से पूछा तो बताया गया ऐसा कुछ नही है अभी सब हवा में बात थी आज हम लोगो ने नगर निगम में अपनी बात रखी और 15 दिन में हमारी मागो को नही माना गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा... आज नगर निगम सुहागी में जलकर और भवन कर में की गया बढ़ोतरी के विरोध में बिलपुरा मडई रिछाई महराजपुर सुहागी की जनता ने विरोध प्रदर्शन किया इस अवसर पर कांग्रेस के वरिष्ट नेता लखन घनघोरिया जी रूपेन्द्र पटेल जी सम्मति सैनी जी संगीता सिंह जी राजेश पटेल जी शिव यादव जी राजेश पटेल जी राजेंद्रमिश्रा जी मनोज लोधी जी रविन्द कुशवाहा जी बालकिशन पटेल जी मुकेश पटेल जी दिनेश पटेल जी सहित अनेको लोग उपस्तिथ रहे


बीजेपी को लगा तगड़ा झटका, महाराष्ट्र MLC चुनाव में भाजपा हारी सभी सीटें
Politics
Mumbai
Delhi
महाराष्ट्र यूपी चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को महाराष्ट्र में तगड़ा झटका लगा है। भाजपा यहां हुए स्नातक एमएलसी चुनाव में सारी सीटें हार गयी है। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ दल भाजपा को एमएलसी चुनाव में करारी हार देखने को मिली अमूमन सत्ताधारी दल की एमएलसी चुनाव में हार देखने को नहीं मिलती है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, महाराष्ट्र में स्नातक एमएलसी चुनाव में सत्ताधारी दल भाजपा को बुरी हार का सामना करना पड़ा है। नतीजों के अनुसार बीजेपी को कहीं पर भी जीत हासिल नहीं हुई हैं। कोंकण से शेतकरी कामगार पक्ष और एनसीपी गठबंधन के उम्मीदवार बालाराम पाटिल ने जीत हासिल की है। नासिक से कांग्रेस के सुधीर तांबे को जीत हासिल हुई है। बीजेपी ने नासिक से केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे के दामाद प्रशांत पाटिल को मैदान में उतारा था, लेकिन उनको भी हार का सामना करना पड़ा है। इसके अलावा औरंगाबाद में भी बीजेपी उम्मीदवार को हार का मुंह देखना पड़ा हैं। यहाँ पर एनसीपी के विक्रम काले को जीत मिली है।


बीजेपी को लगा तगड़ा झटका, महाराष्ट्र MLC चुनाव में भाजपा हारी सभी सीटें
Politics
Mumbai
Delhi
महाराष्ट्र यूपी चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को महाराष्ट्र में तगड़ा झटका लगा है। भाजपा यहां हुए स्नातक एमएलसी चुनाव में सारी सीटें हार गयी है। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ दल भाजपा को एमएलसी चुनाव में करारी हार देखने को मिली अमूमन सत्ताधारी दल की एमएलसी चुनाव में हार देखने को नहीं मिलती है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, महाराष्ट्र में स्नातक एमएलसी चुनाव में सत्ताधारी दल भाजपा को बुरी हार का सामना करना पड़ा है। नतीजों के अनुसार बीजेपी को कहीं पर भी जीत हासिल नहीं हुई हैं। कोंकण से शेतकरी कामगार पक्ष और एनसीपी गठबंधन के उम्मीदवार बालाराम पाटिल ने जीत हासिल की है। नासिक से कांग्रेस के सुधीर तांबे को जीत हासिल हुई है। बीजेपी ने नासिक से केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे के दामाद प्रशांत पाटिल को मैदान में उतारा था, लेकिन उनको भी हार का सामना करना पड़ा है। इसके अलावा औरंगाबाद में भी बीजेपी उम्मीदवार को हार का मुंह देखना पड़ा हैं। यहाँ पर एनसीपी के विक्रम काले को जीत मिली है।


बीजेपी को लगा तगड़ा झटका, महाराष्ट्र MLC चुनाव में भाजपा हारी सभी सीटें
Politics
Mumbai
Delhi
महाराष्ट्र यूपी चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी को महाराष्ट्र में तगड़ा झटका लगा है। भाजपा यहां हुए स्नातक एमएलसी चुनाव में सारी सीटें हार गयी है। महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ दल भाजपा को एमएलसी चुनाव में करारी हार देखने को मिली अमूमन सत्ताधारी दल की एमएलसी चुनाव में हार देखने को नहीं मिलती है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, महाराष्ट्र में स्नातक एमएलसी चुनाव में सत्ताधारी दल भाजपा को बुरी हार का सामना करना पड़ा है। नतीजों के अनुसार बीजेपी को कहीं पर भी जीत हासिल नहीं हुई हैं। कोंकण से शेतकरी कामगार पक्ष और एनसीपी गठबंधन के उम्मीदवार बालाराम पाटिल ने जीत हासिल की है। नासिक से कांग्रेस के सुधीर तांबे को जीत हासिल हुई है। बीजेपी ने नासिक से केंद्रीय रक्षा राज्यमंत्री सुभाष भामरे के दामाद प्रशांत पाटिल को मैदान में उतारा था, लेकिन उनको भी हार का सामना करना पड़ा है। इसके अलावा औरंगाबाद में भी बीजेपी उम्मीदवार को हार का मुंह देखना पड़ा हैं। यहाँ पर एनसीपी के विक्रम काले को जीत मिली है।


पनागर मै सांसद का दौरा...
Politics
Madhya Pradesh
Jabalpur
*सांसद का पनागर दौरा, सांसद निधि से 2-2 लाख रुपये का उपहार* पनागर न्यूज़  सांसद राकेश सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष मनोरमा पटेल, विधायक सुशील तिवारी इंदु भैया, एस डी एम, ने पनागर के ग्राम मुड़िया, तिवारी खेड़ा, रेपुरा, मोहनिया, कुशनेर, पठरा, उमरिया, टगर महगवां, बड़खेड़ा,लीटी, बड़खेड़ी,पिपरिया, आदि ग्राम पंचायतों का दौरा कर क्षेत्र में अभी तक के किये गए कार्यों की समीक्षा कर प्रधानमंत्री मोदीजी और मुख्यमंत्री द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी प्रदान की, वहीं कांग्रेस पर निशाना साधते हुए नोटबंदी को केंद्र सरकार का सबसे सफल एवं आवश्यक कदम बताते हुए कहा कि कांग्रेस ने अपने शासन में आतंक, नक्सली प्रभाव, टेक्स चोरी, जैसी कई अनैतिक गतिविधिओं को बढावा देकर देश के भविष्य को कैद करके रखा था, मोदी जी ने सत्ता सम्हालते ही देश हित के लिए *जनहित जरूरी है चंदा हित जरूरी नहीं है* इसलिए नोटबंदी के रूप में उठाया गया कदम सर्वहित में है।    - *ग्रामीणों ने किया गर्मजोशी से स्वागत* -  सांसद जी ने अपने दौरे पंचायतों में अब तक के कराये गए कार्यों की समीक्षा की साथ ही मुड़िया में सीसी रोड और नाली के लिए, रेपुरा, मोहनिया, बड़खेड़ा, बड़खेड़ी, पिपरिया,पठरा, उमरिया, टगर महंगवा,तिवारीखेड़ा, मुड़िया एवं कुशनेर में रंगमंच निर्माण के लिए सांसद निधि से प्रत्येक पंचायत को 2-2 लाख रु की राशि प्रदान की। इस कार्यक्रम में *विधायक प्रतिनिधि मिन्चू जैन, संतोष सैनी, कामता पटेल, संतोष उसरेठे, धनेश पटेल, अतुल त्रिपाठी, गुड्डू गौतम,जनपद सीईओ ओमकार सिंह, नायाब तहसीलदार भारत सिंह पटेल, विद्युत मंडल सब  इंजीनियर रोहित कुशवाहा, थाना टीआई के पी यादव सभी पंचायतों के सरपंच, सचिव* सहित भारी जन समूह उपस्थित था।


B.J.P ने की तीसरी लिस्ट जारी.
Politics
Uttar Pradesh
lucknow
सम्भावादात ।। जपा ने यूपी व‌िधानसभा चुनाव के ल‌िए 67 प्रत्याश‌ियों की ल‌िस्ट जारी की है। यहां देखें नाम मछलीशहर से नीता रावत जौनपुर से गिरीश यादव रसड़ा से रामइक़बाल सिंह पथरदेवा से सूर्य प्रताप शाही को टिकट चुनार से अनुराग सिंह, केराकत से दिनेश सोनी ,सगड़ी से गोपाल निषाद वाराणसी कैंट से सौरभ श्रीवास्तव, औराई से दीनानाथ भास्कर, मिर्जापुर से रत्नाकर मिश्रा वाराणसी उत्तर - रविन्द्र जायसवाल फूलपुर से अरुण यादव , वाराणसी दक्षिण से नीलकंठ को टिकट पडरौना से स्वामी प्रसाद मौर्य को टिकट म‌िला है


कटनी मै संजय पाठक का विरोध तेज
Politics
Madhya Pradesh
Katni
कटनी *मंत्री संजय पाठक के इस्तीफे की मांग को लेकर संजय पाठक के निवास स्थान पर आम आदमी पार्टी का प्रदर्शन।* कटनी एस.पी गौरव तिवारी ने 500 करोड के हवाला कारोबार को पकड़ा था, जिसमे कथित तौर पर प्रदेश के मंत्री संजय पाठक का नाम सामने आया है। गौरव तिवारी को इनकी ईमानदारी के चलते कटनी से ट्रांसफर कर दिया गया है,अभी तक मंत्री संजय पाठक को बर्खास्त नहीं किया गया है और पूरे मामले को रफा दफा करने की तैयारी है। इसी मुद्दे पर आम आदमी पार्टी द्वारा प्रदेश संगठन सचिव श्री पंकज सिंह जी के नेतृत्व में मंत्री संजय पाठक के निवास स्थान पर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शन के दौरान संजय पाठक के नाम की तख़्ती पर कालिख पोत कर विरोध दर्ज़ कराया। *आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश*


मध्रीयप्वारदेश मै Nsui कार्यकर्ताओं पर फ़िर लाठीचार्ज
Politics
Madhya Pradesh
Rewa
सीएम के रीवा पहुचते ही, पुलिस ने लाठी चार्ज कर विरोध कर रहे कांग्रेस नेता गुरूमीत सिहं मंगू के साथ NSUI के सैकड़ो पदाधिकारियों सहित छात्रों, महिलाओं, युवक कांग्रेसियों व कई कांग्रेस जनों को गिरप्तार कर सिटी कोतवाली थाना में बंद कर दिया। पुलिस के लाठी चर्ज से कई युवा घायल हुए । सीएम के रीवा आगमन का विरोध कर रहे NSUI के पदाधिकारियों ने मंगू भैय्या के मार्गदर्शन में मानस भवन के पास एकत्रित होकर नारे बाजी करते हुए रैली के माध्यम से शिल्पी प्लाजा होते हुए सीएम के कार्यक्रम स्थल की ओर बढ़े जब धोविया टँकी के पास रैली पहुची तभी काफी संख्या में उपस्थित पुलिस ने रोक लिया आंदोलनकारी जब और आगे बढ़ने लगे तभी पुलिस ने लाठी चार्ज कर नेताओ को जबरन गिरप्तार कर पुलिस वाहन में ठूस दिया। अभी सभी गिरप्तार आंदोलनकारी मंगू भैय्या सहित Nsui अध्य क्ष अनूप सिंह चंदेल, अनिल मिश्र, बृजेंद्र गुप्ता, अंकित सिंह, रावेन्दु समुन्द्रे, पारस कुशवाहा, अरुण तिवारी, मंजुल त्रिपाठी, ऋतुराज चतुर्वेदी, लवकुश गुप्ता, मोलई पटेल, शिवकुमार पटेल, यस मिश्र, बसीम खान, जुबेर खान, राजू कराते , शुभम सिंह चंदेल, केडी सिंह , सिद्धार्थ सिंह, मनीष नामदेव, नासिर, राजमणि पटेल, राजेन्द्र आदिवाशी, बेटी बाई समेत सैकड़ो की संख्या में पुलिस हिरासत में कोतवाली थाना में बंद हैं।


आज हो सकता है महागठबंधन का ऐलान, RLD का गठजोड़ सिर्फ कांग्रेस के साथ
Politics
Uttar Pradesh
lucknow
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए आज महागठबंधन का ऐलान हो सकता है. समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच सीटों को लेकर बातचीत फाइनल स्टेज में हैं और लगभग अधिकांश मुद्दों पर सहमति बन गई है. आरएलडी हालांकि, अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान कर चुकी है लेकिन सूत्रों के अनुसार केवल कांग्रेस के साथ उसके गठबंधन को लेकर अंदरखाने बात चल रही है. हालांकि, वह महागठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगी. गठजोड़ में ये आ रहीं दिक्कतें कांग्रेस के साथ बातचीत में आरएलडी 40 सीटों की मांग कर रही है लेकिन वह 25 सीटों पर मान सकती है. सूत्रों के अनुसार सपा ने कांग्रेस को आरएलडी को 20 सीटों पर मनाने को कहा है. इस 20 में से भी 3 सीटों पर बीएसपी की स्थिति काफी मजबूत मानी जा रही है. हालांकि, सूत्र ये भी बता रहे हैं कि रामगोपाल यादव आरएलडी को महागठबंधन का हिस्सा बनाने के खिलाफ हैं. कांग्रेस को कितनी सीटें? सूत्रों के अनुसार, समाजवादी पार्टी कांग्रेस के लिए 103 सीटें छोड़ सकती है. हालांकि, फिर कांग्रेस को ये फैसला करना है कि वह अपने कोटे की सीटों पर चाहे अपने प्रत्याशी उतारे या किसी दल को अपने कोटे की सीटों पर चुनाव लड़ाए. आरएलडी के साथ इसी कोटे के तहत कांग्रेस गठबंधन कर सकती है. सपा-आरएलडी में क्यों बनी दूरी? पहले खबरें थी कि आरएलडी अपने लिए 40 सीटें चाह रही है लेकिन सपा 20 से ज्यादा देने के तैयार नहीं है. समाजवादी पार्टी के आकलन के अनुसार पश्चिमी यूपी में हाल के दिनों में हुए धार्मिक ध्रुविकरण के कारण जाट और मुस्लिम समुदाय एक साथ वोट नहीं करेंगे इसलिए सपा चुनाव से पहले आरएलडी के साथ दिखना नहीं चाह रही. आरएलडी का क्या होगा रुख? गुरुवार को दिल्ली में आरएलडी के महासचिव त्रिलोक त्यागी ने ऐलान किया कि आरएलडी यूपी चुनाव में अकेले उतरेगी. हालांकि, सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के साथ आरएलडी की बैक चैनल बातचीत जारी है और केवल कांग्रेस के साथ उसका गठबंधन हो सकता है. जानकार इसे आरएलडी की दबाव की राजनीति भी बता रहे हैं.


यूपी चुनाव: अल्पसंख्यक बहुल सीटों में छिपी सत्ता की चाबी!
Politics
Uttar Pradesh
lucknow
लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है. सभी राजनीतिक दल धर्म और जाति के नाम पर अपनी बिसात बिछाने में जुटे हुए हैं. इन सबके बीच रोचक तथ्य यह है कि यूपी में पिछले पांच विधा नसभा चुनाव के दौरान सरकार उसी की बनी, जिसने अल्पसंख्यक बहुल सीटों पर अपनी पकड़ बनाई. इस बार भी सत्ता की चाबी इन्हीं सीटों में छिपी हुई है. ABP News > India News > Uttar Pradesh > यूपी चुनाव: अल्पसंख्यक बहुल सीटों में छिपी सत्ता की चाबी! यूपी चुनाव: अल्पसंख्यक बहुल सीटों में छिपी सत्ता की चाबी! By: एजेंसी | Last Updated: Thursday, 19 January 2017 9:48 PM Share यूपी चुनाव: अल्पसंख्यक बहुल सीटों में छिपी सत्ता की चाबी! - - - - - - - - - Advertisement - - - - - - - - - लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है. सभी राजनीतिक दल धर्म और जाति के नाम पर अपनी बिसात बिछाने में जुटे हुए हैं. इन सबके बीच रोचक तथ्य यह है कि यूपी में पिछले पांच विधानसभा चुनाव के दौरान सरकार उसी की बनी, जिसने अल्पसंख्यक बहुल सीटों पर अपनी पकड़ बनाई. इस बार भी सत्ता की चाबी इन्हीं सीटों में छिपी हुई है. राम मंदिर आंदोलन की वजह से बदलती गईं परिस्थतियां यूपी में पिछले कई चुनावों के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह बात सही साबित होती है. साल 1991 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने अल्पसंख्यक बहुल सीटों पर विपक्षियों को मात दी थी, लिहाजा उसकी सरकार बनी थी. बाद में मंदिर आंदोलन की वजह से परिस्थतियां बदलती गईं और अल्पसंख्यक बहुल सीटों से बीजेपी की पकड़ ढीली होती गई. साल 1991 के विधानसभा में बीजेपी को 122 अल्पसंख्यक बहुल सीटों में से 76 सीटों पर जीत हासिल हुई थी. कांग्रेस सात सीटें जीती, जबकि एसपी केवल एक सीट ही जीत पाई थी. 38 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी. कांग्रेस को छह सीटों पर मिली थी जीत 1993 के विधानसभा चुनाव में भी बीजेपी ने इन सीटों पर अपना एकाधिकार बनाए रखा था. इस बार बीजेपी को 69 सीटें मिलीं, जबकि एसपी को 31 सीटें मिली थीं. बीएसपी ने पांच सीटों पर जीत दर्ज कराई थी. कांग्रेस को छह सीटों पर जीत मिली थी. अन्य के खाते में 16 सीटें गई थीं. 1996 के विधानसभा चुनाव में एक बार फिर बीजेपी ने अल्पसंख्यक बहुल सीटों पर जीत हासिल की. जीत का आंकड़ा हालांकि इस घट गया. कुल 128 अल्पसंख्यक बहुल सीटों में से बीजेपी को 59 सीटें, एसपी को 43 सीटें, और बीएसपी को 13 सीटें मिली थीं. सात सीटों पर कांग्रेस के उम्मीदवार जीते थे. मुलायम सिंह के नेतृत्व में बनाई सरकार साल 2002 के चुनाव में एसपी ने अल्पसंख्यक बहुल सीटों पर पिछले चुनावों की अपेक्षा बेहतर प्रदर्शन किया, लिहाजा एसपी की सरकार बनी. सूबे की 129 अल्पसंख्यक बहुल सीटों में से एसपी को 43 सीटें मिलीं और उसने मुलायम सिंह के नेतृत्व में सरकार बनाई. इस चुनाव में बीएसपी को 24 सीटें और बीजेपी को 32 सीटें मिली थीं. साल 2007 के विधानसभा चुनाव में बीएसपी ने अल्पसंख्यक बहुल 59 सीटों पर जीत हासिल की और मायावती की सरकार बनी. दूसरे नंबर पर एसपी रही, जिसने 26 सीटों पर कब्जा जमाया. इस चुनाव में बीजेपी अपना पिछला प्रदर्शन भी नहीं दोहरा पाई और उसे केवल 25 सीटों पर जीत हासिल हुई. कांग्रेस को सात और आरएलडी को छह सीटें मिलीं.


पनागर विधायक द्वारा निःशुल्क चश्मा वितरण....
Politics
Madhya Pradesh
Jabalpur
जबलपुर *पनागर विधानसभा क्षेत्र के विधायक श्री सुशील तिवारी "इंदू"भैया के सौजन्य से बरेला ग्रामीण के देवरी,बम्हनी,धनपुरी सहित 14 गावों में निःशुल्क चश्मा वितरण कार्यक्रम दिनांक 25,27,और 28 जनवरी को,,,,,,* *14 ग्रामों में कार्यकर्ताओं के साथ, स्वयं पहुँचकर करेंगे, लगभग 1000 चश्मों का वितरण ,,,,,* *पहली और अनोखी पहल एवं स्वयं के खर्च पर लगातार कर रहे है, निःशुल्क चश्मा वितरण,,,* *विदित होवे की पूर्व में बरेला ग्रामीण की लगभग10 पंचायतों के 14 ग्रामों में माननीय विधायक श्री इंदू तिवारी जी द्वारा "नेत्र ज्योति रथ" पहुँचाया गया था,एवं ग्राम पंचायतों के पोषक ग्रामों में भी शिविर लगाकर नेत्र पीडितो की पहचान की गई थी,साथ ही पीड़ितों की पहचान कर चश्मे के लिए पंजीयन किया गया था,मोतियाबिंद रोगियों की भी अलग से पहचान की गई थी, जिसका संपूर्ण खर्च भी विधायक जी द्वारा स्वयं वहन किया जा रहा है,इसी तारतम्य में आगामी दिनांक 25,27,एवं 28 जनवरी को क्षेत्रीय विधायक माननीय श्री सुशील तिवारी जी "इंदू" भैया द्वारा वृहद स्तर पर ग्रामो में कार्यक्रम कर निःशुल्क चश्मे वितरण किया जाना है।* *इन ग्रामो में होगा निःशुल्क चश्मा वितरण* *दिनांक 25 जनवरी* *डूँगा महगाँव,कूटेलि टोला, 12 बजे दोपहर* *कुडारी उमरिया* *उमरिया कुडारी, 1बजे* *दिनांक 27 जनवरी* *पहाड़ीखेड़ा ,11 बजे सुबह* *डूंडी, 12 बजे* *बीजापुरी 1बजे* *मलारा तिलहरी, 2 बजे* *धनपुरी ,3 बजे* *29 जनवरी* *बम्हनी 11 बजे सुबह* *गाडरखेड़ा 12 बजे* *महगवा 1 बजे* *देवरी पटपरा 2 बजे* *जुनवानी 3 बजे*


अखिलेश की समाजवादी पार्टी से गठबंधन को तैयारहो सकती है कांग्रेस
Politics
Uttar Pradesh
lucknow
लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन को तैयार है. हालांकि अभी सीटों के बंटवारे को लेकर काम चल रहा है और अगले 24 घंटे में अखिलेश यादव कांग्रेस-आरएलडी के साथ एसपी के गठबंधन का ऐलान कर सकते हैं लेकिन इससे पहले ह ने अखिलेश-राहुल की दोस्ती का फॉर्मूला डिकोड कर लिया है. एक पूरी रिसर्च के बाद हमने आज वो फॉर्मूला आपके लिए पता किया है, जिसके आधार पर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच सीटें बंटेंगीं. पिता मुलायम से झगड़े के बाद अखिलेश यादव को साइकिल चुनाव चिन्ह मिलते ही सबसे पहले आपको बताया था कि अब कांग्रेस से यूपी में गठबंधन किसी भी पल तय है. आज पहले इस बात की मुहर यूपी में कांग्रेस के प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने लगाई. आजाद ने माना कि अखिलेश की समाजवादी पार्टी के साथ कांग्रेस का गठबंधन हो रहा है और आज कल में दोनों पार्टियों में सीटों के समझौते का एलान होगा.


दिल्ली के 21 संसदीय सचिव मामला: दिल्ली सरकार के जवाब में असंतुष्ट चुनाव आयोग ने मुख्य सचिव को लिखी चिट्ठी
Politics
Madhya Pradesh
Katni
नई दिल्ली: चुनाव आयोग ने दिल्ली के मुख्य सचिव केके शर्मा से एक बार फिर छह सवालों का जवाब मांगा है. आयोग ने ये जवाब दिल्ली सरकार में संसदीय सचिव बनाए गए 21 आप विधायकों के मुद्दे पर मांगा है. चुनाव आयोग ने संसदीय सचिवों को दी कुछ सुविधाओं का ब्योरा मांगा है. x


पंजाब : आप को ताकत देने के लिए पूर्व कांग्रेसी दिग्गज जगमीत सिंह बरार आए साथ
Politics
Madhya Pradesh
Katni
नई दिल्ली: पंजाब की राजनीति में आम आदमी पार्टी से जुड़े नेताओं की आपस में फूट के बीच पार्टी के लिए अच्छी खबर भी आई है. कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता जगमीत सिंह बरार आम आदमी पार्टी के साथ आ गए हैं. पिछले कुछ दिनों में आप नेताओं ने एक दूसरे पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं. इन आरोपों के चलते पार्टी के पंजाब इकाई के संयोजक सुच्चा सिंह छोटेपुर को पद से हटा दिया. सुच्चा सिंह पर टिकट के लिए पैसे लेने के आरोप तक लगे. वहीं दिल्ली में पार्टी का एक विधायक सैक्स स्कैंडल के आरोप में जेल में बैठा है. ऐसे में यह खबर पार्टी के लिए राहत लेकर आई है.


मोदी सरकार ने उद्योगपतियों का कर्ज माफ किया, किसानों को भूल गए : राहुल गांधी
Politics
Madhya Pradesh
Katni
लखनऊ: अपनी उत्तर प्रदेश यात्रा के दूसरे दिन कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने किसानों के कर्ज माफ करने की मांग उठाई और कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गरीबों के लिए सरकार चलानी चाहिए और किसान जो ‘रो’ रहे हैं उनकी बदहाली पर ध्यान देना चाहिए. उन्होंने दावा किया किया कि बीते 2 साल में प्रधानमंत्री मोदी ने ‘बड़े उद्योगपतियों और अमीर लोगों’ का 1.10 लाख करोड़ रुपए तक का कर्ज माफ किया है, लेकिन वह उन किसानों के दुख को भूल गए, जो पूरे देश का भार अपने कंधों पर उठा रहे हैं. राहुल ने कहा, बीते दो साल में नरेंद्र मोदी ने 1.10 लाख करोड़ रुपए का कर्ज माफ किया है, लेकिन यह कर्ज किसानों का नहीं बल्कि बड़े उद्योगपतियों और अमीर लोगों का था. अगर मोदीजी अमीरों का कर्ज माफ करना चाहते हैं तो यह उनका अपना फैसला है. वे प्रधानमंत्री हैं इसलिए ऐसा कर सकते हैं. हम इसके खिलाफ नहीं हैं. लेकिन हमारी केवल एक ही मांग है. आप केवल ‘सूट-बूट की सरकार’ न चलाएं. आपको सरकार गरीबों के लिए चलानी चाहिए. उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘अगर आप बड़े उद्योगपतियों का कर्ज माफ करना चाहते हैं तो किसानों का कर्ज भी माफ कीजिए.


सोशल मीडिया के सहारे यूपी फतह करने की तैयारी में BJP, ये है प्लान, कल है महत्वपूर्ण मीटिंग!
Politics
Madhya Pradesh
Katni
नई दिल्‍ली। चुनाव से ऐन वक्‍त पहले भाजपा को बूथों की याद आ गई है। बूथ और यूथ को जोड़कर भाजपा ने एक नारा भी तैयार किया है। बूथवार यूथ तक पहुंचने के लिए भाजपा अब सोशल मीडिया का सहारा लेगी। भाजपा सोशल मीडिया वार शुरू करने जा रही है। इसके लिए तीन सितम्‍बर को लखनऊ में सोशल मीडिया वॉलेन्‍टियर्स सम्‍मेलन आयोजित किया है। सम्‍मेलन के दौरान पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह भाजपा के आईटी एक्‍सपर्ट को टिप्‍स देंगे। इसमें पूरे प्रदेश के भाजपा से जुड़े आईटी एक्‍सपर्ट मौजूद रहेंगे। मेरा बूथ सबसे मजबूत। यह वो नया नारा है जो बीजेपी ने यूथ के बीच दिया है। अपने इसी नारे को बीजेपी सार्थक करने के लिए एक पहल शुरू करने जा रही है। यूथ को बूथ तक लाने के लिए आईटी एक्‍सपर्ट की मदद ली जाएगी। सूत्रों की मानें तो इसके लिए एक खास रणनीति तैयार की गई है। जिसका खुलासा तीन सितम्‍बर को लखनऊ में सोशल मीडिया वॉलेन्‍टियर्स सम्‍मेलन के दौरान जाएगा। सोशल मीडिया के जरिए युवाओं तक कैसे पहुंचना है, युवाओं को कैसे जोड़ना है इस तरह के और भी बहुत सारे टिप्‍स अमित शाह देंगे। पार्टी के उत्‍तर प्रदेश अध्‍यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने बताया कि पूरे प्रदेश से भाजपा के करीब 350 आईटी एक्‍सपर्ट सम्‍मेलन में शिरकत करेंगे।


AAP मंत्री कपिल मिश्रा ने लिखा गांधी पर लंबा FB पोस्ट, क्या आशुतोष को ये उनका जवाब है?
Politics
Madhya Pradesh
Katni
नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के मंत्री (पूर्व) संदीप कुमार के सेक्स सीडी कांड में फंसने के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता आशुतोष ने इस घटना को लेकर गांधी, नेहरू, अटल बिहारी वाजपेयी जैसे नेताओं का जिक्र कर विवादों को न्योता दे दिया। उन्होंने इस मुद्दे को लेकर मीडिया पर भी निशाना साधा है। लेकिन इसके उलट आप के मंत्री कपिल मिश्रा ने गांधीजी के उनकी पत्नी कस्तूरबा से संबंध को लेकर फेसबुक पर लंबा पोस्ट लिखा है। उन्होंने लिखा कि गांधी को समझना आसान नहीं है। कयास लग रहे हैं कि क्या कपिल का पोस्ट आशुतोष को उनका जवाब है?


दिल्ली सरकार के मंत्री सेक्स स्कैंडल के आरोप में बर्खास्त
Politics
Madhya Pradesh
Katni
खबरों अनुसार इस सीडी में संदीप कुमार की कुछ तस्‍वीरें और 9 मिनट का वीडियो है। इनमें मंत्री जी दो अलग.अलग महिलाओं के साथ बेहद अापत्तिजनक हालत में नजर आ रहे हैं। तस्‍वीरों में जो महिला है वो वीडियो में नजर नहीं आ रही |मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह सीडी देखने के बाद संदीप कुमार को मंत्री पद से हटा दिया है। मुख्‍यमंत्री ने खुद ट्वीट कर मंत्री को हटाने की जानकारी दी है |


ओडिशा में बच्ची ने दम तोड़ा तो एम्बुलेंस ने रास्ते में उतारा, पिता ने 6 किमी ढोई लाश
Politics
Madhya Pradesh
Katni
मलकानगिरी (ओडिशा).कालाहांडी के दाना मांझी जैसा एक और मामला सामने आया है। एक पिता 6 किमी तक अपनी 7 साल की बेटी की लाश कंधे पर लेकर चलने को मजबूर दिखा। हॉस्पिटल के रास्ते में बच्ची की मौत होने पर एम्बुलेंस स्टाफ उन्हें रास्ते में ही उतारकर चलता बना। बच्ची की तबीयत खराब होने पर परिवार उसे हॉस्पिटल लेकर जा रहा था... - मलकानगिरी जिले के घुसापल्ली में शुक्रवार को 7 साल की बच्ची बर्षा खेमुडु की तबीयत खराब होने पर परिवार उसे जिला हॉस्पिटल लेकर जा रहा था। इसी बीच रास्ते में बर्षा की मौत हो गई। - लड़की के पिता दीनबंधु खेमुडु ने बताया, "बच्ची की मौत का पता चलते ही एम्बुलेंस ड्राइवर ने उन्हें उतार दिया। मजबूरी में मुझे बेटी का शव गोद में उठाकर चलना पड़ा।" - 6 किलोमीटर चलने के बाद वह एक गांव पहुंचे। यहां लोगों ने अफसरों को सूचना दी। इसके बाद जाकर उनके लिए गाड़ी की व्यवस्था हो पाई।