INDvsENG: युवी-धोनी के धमाके से भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ 2-0 से जीती सीरीज़
Sports
Delhi
Delhi
कटक: भारत ने बाराबती स्टेडियम में गुरुवार को हुए दूसरे एकदिवसीय मैच में इंग्लैंड को 15 रनों से हरा दिया. इसके साथ ही भारत ने तीन मैचों की श्रृंखला पर 2-0 से अजेय बढ़त हासिल कर ली. भारत से मिले 382 रनों के अपने सबसे विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड कप्तान इयान मोर्गन (102) और जेसन रॉय (82) की जुझारू पारियों के बावजूद निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट खोकर 366 रन बना सकी. इतने विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड 45 ओवरों तक भारत की अपेक्षा रनों के मामले में आगे चल रहा था. भारत के जहां 45 ओवरों में चार विकेट पर 308 रन थे, वहीं इंग्लैंड ने 45 ओवरों तक 309 रन बना लिए थे, हालांकि उसके सात विकेट गिर चुके थे. 81 गेंदों में छह चौके और पांच छक्के लगा चुके मोर्गन जब तक क्रीज पर थे, इंग्लैंड की उम्मीदें बची हुई थीं. लेकिन 49वें ओवर की तीसरी गेंद पर जसप्रीत बुमराह ने फॉलोअप में न सिर्फ लियाम प्लंकेट का शॉट रोका, बल्कि नॉन स्ट्राइकर छोर छोड़ चुके मोर्गन को रन आउट कर इंग्लैंड की आखिरी उम्मीद भी खत्म कर दी. इंग्लैंड को आखिरी ओवर में 22 रन चाहिए थे और गेंद लेकर उतरे डेथ ओवर के विश्वसनीय गेंदबाज भुवनेश्वर. भुवनेश्वर ने विश्वास को कायम रखते हुए ओवर में सिर्फ छह रन दिए और भारत 15 रनों से मैच जीत गया. भारत के लिए रविचंद्रन अश्विन ने सर्वाधिक तीन विकेट चटकाए. उनके अलावा जसप्रीत बुमराह को दो और भुवनेश्वर कुमार और रवींद्र जडेजा को एक-एक विकेट मिला. जडेजा सबसे किफायती गेंदबाज रहे. उन्होंने 10 ओवरों में 45 रन दिए. इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने युवराज सिंह (150) और महेंद्र सिंह धोनी (134) की दमदारा पारियों की बदौलत निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट खोकर 381 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था.


भारत में विराट की कप्तानी में अब तक अजेय है टीम इंडिया
Sports
Delhi
Delhi
खेल संवादाता |मैदान पर विराट कोहली का आक्रामक रुख जगजाहिर है. यह उनके आंकड़ों से भी साबित होता है. उनकी सफलता की कहानी कह रहे हैं ये आंकड़े. अगर अपनी सरजमीं पर कप्तान के रूप में बात करें, तो विराट के क्या कहने. भारत में अंतरराष्ट्रीय मैचों की कप्तानी करते हुए उन्हें अब तक कोई भी टीम हरा नहीं पाई है. वनडे के सभी 6 मुकाबले जीते विराट कोहली ने भारत में अब तक छह वनडे मैचों में कप्तानी करते हुए सभी छह के छह जीते. टेस्ट मैच की बात करें, तो यहां उन्होंने 12 मैचों में कप्तानी करते हुए 10 में जीत हासिल की, जबकि दो मुकाबले ड्रॉ रहे. वनडे में विदेशी धरती पर भी उनका अब तक रिकॉर्ड बेहद दुरुस्त है. 12 मैचों में कप्तानी करते हुए 9 में टीम इंडिया ने जीत हासिल की, तीन में ही हार मिली. पुणे में शतक से सचिन का रिकॉर्ड भी तोड़ डाला सफलतापूर्वक लक्ष्य का पीछा करते हुए पुणे में विराट ने 15वां वनडे शतक जमाया. इसके साथ ही उन्होंने सचिन तेंडुलकर के रिकॉर्ड को तोड़ डाला. सचिन के नाम 14 शतक हैं. जबकि सईद अनवर, तिलकरत्ने दिलशान, सनत जयसूर्या ने सक्सेसफुल चेज के दौरान 9 शतक लगाए. लक्ष्य का पीछा करना हो तो विराट की बल्लेबाजी का जवाब नहीं. गौर करिए इन आंकड़ों पर- कोहली का वनडे एवरेज पहले बल्लेबाजी करते हुए: 41.57 लक्ष्य का पीछा करते हुए: 64.94 सफलतापूर्वक लक्ष्य का पीछा करते हुए: 90.90 ओवरऑल : 53.41


RIO 2016 (हॉकी) : जर्मनी ने भारत को 2-1 से हराया
Sports
Madhya Pradesh
Katni
भारतीय हॉकी टीम को रियो ओलम्पिक के अपने दूसरे पूल मैच में सोमवार को मौजूदा चैम्पियन जर्मनी के हाथों 1-2 से हार मिली. जर्मनी ने विजय गोल अंतिम मिनट मे किया. ओलम्पिक हॉकी सेंटर में हुए इस पूल-बी मैच का पहला गोल जर्मनी की ओर से निकलास वेलेन ने किया. वेलेन ने 18वें मिनट में एक बेहतरीन फील्ड गोल की मदद से मौजूदा चैम्पियन को आगे किया. इसके बाद एशियाई चैम्पियन भारत ने हमला तेज किया और 23वें मिनट में मिले पेनाल्टी कॉर्नर पर गोल करते हुए स्कोर बराबर कर लिया. आठ बार के ओलम्पिक चैम्पियन भारत के लिए यह गोल रुपिंदर पाल सिंह ने किया. यह इस टूर्नामेंट में रुपिंदर का तीसरा गोल है. रुपिंदर ने आयरलैंड के खिलाफ मिली जीत में दो गोल किए थे. इसके बाद दोनों टीमों ने गोल करने के कई नाकाम प्रयास किए. ऐसा लग रहा था कि भारत मौजूदा चैम्पियन को बराबरी पर रोक दिया लेकिन क्रिस्टोफर रूर ने 60वें मिनट में गोल करते हुए अपनी टीम को बेहतरीन जीत दिला दी. भारत को अपने तीसरे पूल मैच में मंगलवार को अर्जेटीना से भिड़ना है.


ओपनर के रूप में राहुल ही होंगे कोहली की पहली पसंद
Sports
Madhya Pradesh
Katni
सेंट लूसिया: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने संकेत दिए कि वह वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट में घायल मुरली विजय की जगह केएल राहुल से ही पारी का आगाज करायेंगे. राहुल ने पिछले मैच में विजय की जगह खेलते हुए 158 रन बनाये थे. उन्होंने कहा ,‘‘चोट पर किसी का बस नहीं है. आईपीएल में भी एक मैच में मनदीप फिट था और उसका खेलना तय था. टॉस के समय उसे चोट लग गई और राहुल को मौका मिला. इसके बाद से राहुल ने मुड़कर नहीं देखा.’’


साल के बेस्ट इंडियन क्रिकेटर बने कोहली और मिताली राज
Sports
Madhya Pradesh
Katni
भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली को बीसीसीआई ने वर्ष का क्रिकेटर चुना जबकि महिला वर्ग से यह खिताब मिताली राज को मिलेगा. कोहली को बेस्ट क्रिकेटर के लिए पाली उमरीगर जबकि मिताली को एम. ए. चिदंबरम ट्रॉफी मिलेगी. प्रोटियाज और लंकाई चीतों को दी मात ऑस्ट्रेलियाई दौरे के बीच महेंद्र सिंह धोनी के अचानक संन्यास लेने के बाद कप्तानी संभालने वाले 27 वर्षीय कोहली ने अपने नेतृत्व में कुछ अच्छे परिणाम दिए. कोहली के नेतृत्व में भारत ने श्रीलंकाई सरजमीं पर 22 साल में पहली बार टेस्ट सीरीज जीती और फिर इसके बाद विश्व की नंबर एक टीम दक्षिण अफ्रीका को पिछले नौ वर्षों में विदेशी धरती पर सीरीज में पहली हार का मजा चखाया. दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने इस साल 15 टेस्ट पारियों में 42.67 की औसत से 640 रन बनाए. इसके अलावा कोहली ने 20 वनडे में 36.65 की औसत से 623 रन भी बनाए. मिताली ने इसी साल रचा इतिहास मिताली ने इसी साल वनडे में 5000 रन पूरे किए. वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय और ओवरऑल दूसरी महिला बल्लेबाज बनीं. पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज सैयद किरमानी को कर्नल सीके नायुडू लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा. कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ को वर्ष का सर्वश्रेष्ठ संघ चुना गया है. उसने इस साल रणजी ट्रॉफी, ईरानी कप और विजय हजारे ट्रॉफी जीती. उथप्पा ने बनाए सबसे ज्यादा रन कर्नाटक के बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा को रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने के लिये माधवराव सिंधिया पुरस्कार से नवाजा जाएगा. उथप्पा ने इस साल 11 मैचों में 50.66 की औसत से 912 रन बनाए. सर्वाधिक विकेट लेने का पुरस्कार कर्नाटक के आर विनयकुमार और मुंबई के शार्दुल ठाकुर को संयुक्त रूप से दिया जाएगा. इन्होंने पिछले सत्र में समान 48 विकेट लिए थे.