28 नायबतहसीलदार ने 1 ही केश में कर दिये 3 लोगों के पट्टे निरस्त*

*नायबतहसीलदार ने 1 ही केश में कर दिये 3 लोगों के पट्टे निरस्त* पनागर न्यूज़ पनागर तहसील में इन दिनों अधिकारियों द्वारा सारे कार्य नियम विरुद्ध किये जा रहे हैं। एक तरफ ग्रामोदय अभियान और नगर उदय अभियान के तहत सभी लोगों को सुविधा का लाभ मिले इस हेतु प्रशासन ने प्रत्येक गाँव में कोई हितग्राही मूलक योजनाओं से वंचित ना रहे इसके लिए सतत प्रयास करके पट्टा वितरण, उज्ज्वला योजना, लाडली लक्ष्मी योजना, गरीबी रेखा कार्ड, जैसी कई योजना के पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किया। इसके विपरीत पनागर के नायाब तहसीलदार भारत सिंह पटेल जो आर आई से पदोन्नति होकर नायाब तहसीलदार बने हैं जिनके द्वारा नियम कायदे को ताक में रखकर मनमाने तरीके से कार्य किये जा रहे हैं ऐसा ही 1 मामला ग्रामपंचायत मनक्वारा के छोटे लाल पटेल, कैलाश पटेल और प्रकाश पटेल के साथ हुआ मामले की प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्रामपंचायत मे हुई ग्रामसभा में इन 3 पट्टों को निरस्त करने के लिए पास किये गए प्रस्ताव को नायाब तहसीलदार भारत सिंह पटेल द्वारा 1 ही आर्डर सीट में निरस्त कर दिया गया। *केश बनाया छोटे सिंह पटेल के नाम से*- नायाब तहसीलदार द्वारा दिनांक 17/7/16 को प्र क्र 3092/बी-121/2015-16 दर्ज कर पटवारी की रिपोर्ट का आदेश दिया गया और केश की दूसरी नियत पेशी दिनांक 30/8/16 को पट्टा निरस्ती का आदेश दे दिया गया उक्त प्रकरण में छोटेलाल पटेल के आदेश के साथ ही उन्होंने कैलाश पटेल और प्रकाश पटेल के पट्टे निरस्त कर दिए। *नहीं दी कोई सूचना*- पट्टे निरस्त करने की कार्यवाही के दौरान नायाब तहसीलदार भारत सिंह पटेल द्वारा किसी को अपने दस्तावेज पेश करने के लिए कोई भी नोटिश नहीं दिए गए और बिना किसी सूचना के ही पट्टे निरस्त कर दिए गए और पीड़ित परिवार को मकान तोड़ने के नोटिश थमा दिए गए तब पीड़ित परिवार को इसकी जानकारी हुई। *भरतसिंह पटेल नायाब तहसीलदार* - हमारे पास पट्टा निरस्त करने का अधिकार है, इस कारण हमी लोग पट्टे निरस्त कर देते हैं हमने अपने अधिकार का उपयोग करके ही पट्टे निरस्त किये हैं कलेक्टर महोदय को कृषि भूमि के पट्टे निरस्त करने का ही अधिकार है। फिर भी मामले को अपने संज्ञान में ले लिया है, उचित जांच करके कार्यवाही कर देंगे। *छोटे लाल पटेल* - आबादी भूमि के स्वामित्व प्रदान करने हेतु शासन द्वारा चलाये गए अभियान के तहत ही समस्त कार्यवाही करके अन्य गाँव के लोगों के साथ ही हमें भी पट्टा दिया गया है , बिना कोई नोटिस, बिना मौखिक जानकारी दिए पट्टा निरस्त कर इन्होंने मानवीय अधिकार का उल्लंघन किया है जो भी नियम में आता है उसी आधार पर कड़ी कार्यवाही की जाये।

State