83 जबलपुर के पाण्डेय हॉस्पिटल पर पर जाँच शुरू

दामोदर चौधरी के प्रकरण में मजिस्ट्रियल जाँच के आदेश जबलपुर, 23 जनवरी, 2017 जिला दण्डाधिकारी एवं कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने नरसिंहपुर जिले की तेंदूखेड़ा तहसील के ग्राम लोलरी निवासी दामोदर चौधरी के ब्यौहारबाग जबलपुर स्थित पाण्डे हॉस्पिटल में ईलाज में हुई अनियमितताओं की मजिस्ट्रियल जाँच के आदेश दिये हैं । श्री चौधरी ने जाँच के लिए अनुविभागीय दण्डाधिकारी ओमती को इस मामले की जाँच अधिकारी नियुक्त किया है । प्रकरण की मजिस्ट्रियल जाँच पांच बिन्दुओं पर की जायेगी । इनमें दामोदर चौधरी किन परिस्थितियों में पाण्डे हास्पिटल में भर्ती हुआ, पाण्डे हास्पिटल में उसे किस प्रकार का उपचार दिया गया एवं कितने आपरेशन किये गये, राज्य बीमारी सहायता योजना से प्राप्त राशि का उपयोग किस तरह किया गया, भविष्य में दामोदर चौधरी को आपरेशन एवं उपचार की क्या आवश्यकता है तथा अन्य बिन्दु जो जाँच अधिकारी उचित समझें को शामिल किया गया है । कलेक्टर श्री चौधरी ने अनुविभागीय दण्डाधिकारी ओमती को मजिस्ट्रियल जांच में सहायता हेतु तीन चिकित्सकों का पैनल भी बनाया है । इनमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जबलपुर, सिविल सर्जन सेठ गोविंददास चिकित्सालय जबलपुर तथा अनुविभागीय दण्डाधिकारी द्वारा नामांकित डॉक्टर शामिल है । चिकित्सकों का यह पैनल प्रकरण की जांच कर अपना अभिमत प्रस्तुत करेगा । कलेक्टर ने मजिस्ट्रियल जांच एक सप्ताह में पूरी कर जाँच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश अनुविभागीय दण्डाधिकारी ओमती को दिये हैं । ज्ञात हो कि दामोदर चौधरी ने आज कलेक्टर को लिखित शिकायत में बताया कि एक जनवरी 2016 को करेली रेल्वे फाटक के पास दुर्घटना के कारण उसका बायां हाथ एवं बायां पैर फ्रेक्चर हो गया था । गंभीर चोटों के कारण उसे करेली से नरसिंहपुर तथा नरसिंहपुर से जबलपुर मेडिकल कालेज रिफर किया गया । आवेदक ने शिकायत में बताया कि मेडिकल कॉलेज जबलपुर में पाण्डे हॉस्पिटल के कुछ दलालों ने उसे बहलाकर पाण्डे हास्पिटल में मेडिकल से अच्छा इलाज कराने हेतु सलाह दी । पाण्डे हॉस्पिटल द्वारा बी.पी.एल. कार्ड धारक होने के कारण उसका राज्य बीमारी सहायता योजनांतर्गत प्रकरण तैयार कर शासन से रूपये 1 लाख 90 हजार की राशि प्राप्त की गयी । आवेदक का पाण्डे हॉस्पिटल में आपरेशन एवं इलाज किया गया परंतु उसे कोई लाभ नहीं हुआ । आवेदक की शिकायत थी कि उसका सही ढंग से इलाज न कर उसे प्राप्त राशि हड़प ली गयी । क्रमांक/1208/जनवरी-99/जैन

Crime