84 जनपद सीईओ के निलंबन के विरोध में अजाक्स संघ ने तहसीलदार को कमिश्नर के नाम सौंपा ज्ञापन

*जनपद सीईओ के निलंबन के विरोध में अजाक्स संघ ने तहसीलदार को कमिश्नर के नाम सौंपा ज्ञापन* पनागर न्यूज़ मध्य प्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ (अजाक्स) की शाखा पनागर के बैनर तले आज तहसीलदार को संभागीय कमिश्नर के नाम ज्ञापन सौंपा गया जिसमे मांग की गई की आरक्षित वर्ग के सीईओ पनागर जनपद ओमकार सिंह ठाकुर को निलंबित किया गया है वह केबल दुर्भावना पूर्ण है, ओमकार सिंह ठाकुर को सुनवाई का अवसर दिए बिना निलंबित कर दिया गया और जो जांच कमेटी बनी थी उन्होंने दस्तावेजों का सत्यापन करने की बजाय सीईओ पनागर को आरोपित कर जांच प्रतिवेदन दिया जबकि तत्कालीन सहायक यंत्री मनरेगा ए के अग्रवाल एवं ए पी ओ मनरेगा विनोद कुमार नेमा की भूमिका सर्वाधिक संदिग्ध है जबकि वेंडर का रजिस्ट्रेशन जिला पंचायत द्वारा किया जाता है, साथ ही भौतिक सत्यापन का काम भी जिला पंचायत द्वारा ही किया जाता है सीईओ द्वारा जिस कथित जय ट्रेडर्स के नाम 1 करोड़ 61 लाख रु का भुगतान बताया जा रहा है, उसमे फाइल उपयंत्री तथा सहायक यंत्री मनरेगा के पास से होते हुए भुगतान हेतु सिर्फ नस्ती ही सीईओ के पास पंहुचती है,फिर भी मात्र सीईओ की भूमिका पर एक तरफ़ा कार्यवाही किया जाना समझ से परे है इन्हें एक साजिश के तहत फंसाया गया है, अजाक्स संघ द्वारा सीईओ के विरुद्ध लगाये गए आरोपों को निरस्त करते हुए किये गये निलंबन आदेश को ख़त्म करने की मांग अजाक्स के प्रकाश चंदेल, धनराज कुर्वेति, कमलेश धापोडकर, जे एन कंसोटिया,संगीता चढ़ार, धर्मेंद्र पटेल, मनोज तिवारी, प्रह्लाद पटेल, अन्नपुर्णा महोबिया, सुधा भलावी सहित जनपद स्टाफ द्वारा की गई।

Sliderfront